Uncategorized

Designed Shayari

http://ift.tt/2qZZubM

मेरी जुबां पे नए जायकों के फल लिख दे ..
ऐ मेरे खुदा तू मेरे नाम इक ग़ज़ल लिख दे..!!!
वो चाहता है यह दुनिया, मैं चाहता हूँ उसे ..
यह मसला बड़ा ही नाज़ुक़ है , कोई हल लिख दे …!!!
मैं एक लम्हे में दुनियां समेट सकता हूँ …
वो जब मिलेगा तन्हाई में , बस इक पल लिख दे..!!!
…..डा. बशीर् बद्र ….🌹🌹

http://ift.tt/2r036ua

Advertisements